100+ Best Sad love shayari in Hindi with image pic, photo collection 2021

Best Sad shayari
Sad shayari in Hindi




तू मुझसे दूर है इस बात का शिकवा नही,
गिला तो इस बात का है
की तू किसी और के करीब है

कोई था हमारी जिंदगी में जिसे हमारे
चुप रहने से भी कभी फर्क पड़ता था,
फिर न जाने अचानक क्या हुआ
आज रोने से भी फर्क नही पड़ता।

जो जख्म दिखते नही हैं,
वो दर्द बहुत देते हैं

Ishq Ki Hamare Bas Itni Si Kahani Hai, Tum Bichhad Gaye Ham Bikhar Gaye, Tum Mile Nahin Aur... Ham Kisi Aur Ke Huye Nahi. इश्क की हमारे बस इतनी सी कहानी है, तुम बिछड गए हम बिख़र गए, तुम मिले नहीं और... हम किसी और के हुए नही। Sad love Shayari

तेरा नाम सुन कर अक्सर गुस्से में भी
मुस्कुरा जाता हूँ तेरे नाम से
इतनी मोहब्बत है तो सोच
तुझसे कितनी मोहब्बत होगी

जो लोग अंदर से मर जाते हैं न,
तो फिर वो लोग दूसरों को जीना सिखाते हैं

हमने तो वो खोया जो
कभी हमारा था ही नही,
लेकिन तूने वो खोया जो
कभी सिर्फ तेरा था

टूटे हुए दिल भी धड़कतें हैं उम्र भर चाहें किसी की याद में चाहे किसी की फरियाद में।

न रहा करो उदास किसी वेबफा की याद में,
वो खुश है अपनी दुनिया में तुम्हारी दुनिया उजाड़ के।


तेरे बाद हमारा हम दर्द कौन बनेगा,
हमने तो सब छोड़ दिया तुझे पाने की जिद्द में।

इतना दर्द तो मौत भी नही देती
जितनी दर्द तेरी ख़ामोशी दे रही है।


एक बात हमेशा याद रखना दुनिया में तुम्हे मेरे जैसे बहुत मिलेंगे,
लेकिन उनमे तुम्हे हम नही मिलेंगे।

मुझको छोड़ने की बजह तो बता जाते,
तुम मुझसे बेज़ार थे या हम जैसे हज़ार थे।

भीड़ में खड़े होना मेरा मक़सद नहीं है ज़नाब,
बल्कि मुझे वो बनना है जिसके लिए भीड़ खड़ी है।

हम दुश्मनों को भी बड़ी शानदार सज़ा देते हैं,
हाथ नहीं उठाते बस नज़रों से गिरा देते हैं


माचिस तो यूँ ही बदनाम है हुजुर,
हमारे तेवर तो आज भी आग लगाते है

जख़्म इतना गहरा हैं इज़हार क्या करें।
हम ख़ुद निशां बन गये ओरो का क्या करें।
मर गए हम मगर खुली रही आँखे हमरी।
क्योंकि हमारी आँखों को उनका इंतेज़ार हैं।

दर्द को दर्द अब होने लगा है।
दर्द अपने गम पे खुद रोने लगा है।
अब हमें दर्द से दर्द नही लगेगा।
क्योंकि दर्द हमको छू कर खुद सोने लगा है।

प्यार में मौत से डरता कोन है ।
प्यार हो जाता है करता कोन है।
आप जैसे यार पर हम तो क्या सारी दुनियां फिदा है।
लेकिन हमारी तरह आप पर मरता कौन है

उदास नज़रो में ख़्वाब मिलेंगे।
कभी काटे तो कभी गुलाब मिलेंगे।
मेरे दिल की किताब को मेरी नज़रो से पढ़ कर तो देखो।
कही आपकी यादे तो कही आप मिलेंगे ।

ना समझो कि हम आपको भुला सकेंगे।
आप नही जानते की दिल मे छुपा कर रखेंगे।
देख ना ले आपको कोई हमारी आँखों मे दूर से।
इसी लिए हम पालखे झुका के रखेंगे।

चाहा ना उसने मुझे बस देखता रहा
मेरी ज़िंदगी से वो इस तरह खेलता रहा
ना उतरा कभी मेरी ज़िंदगी की झील में
बस किनारे पर बैठा पथर फेंकता रहा ।।


वो तेरे खत .. तेरी तस्वीर.. और सूखे फूल
उदासी करती हे मुझको.. निशानिया तेरी

कभी कभी इंसान ना टूटता है ना बिखरता है बस हार जाता है कभी किस्मत से तो कभी अपनों से


मुझे किसी के बदल जाने का गम नही , बस कोई था, जिस पर खुद से ज्यादा भरोसा था…!!


ये दुनिया भी उसी को रुलाती है
जिसके पास आंसू साफ करने वाला कोई नहीं होता


इंसान सब कुछ भूल सकता है
लेकिन चाह कर भी धोखा नहीं भूल सकता है


मेरे ग़म को कोई नहीं समझ सका क्यों के मुझे आदत थी मुस्कराने की


बदल जाते है वो लोग वक़्त की तरह
जिन्हे हद से ज्यादा वक़्त दिया जाए


सच्चा प्यार सिर्फ वो लोग कर सकते हैं...जो किसी का प्यार पाने के लिए तरस चुके हो.


वो करीब तो बहुत है मगर कुछ दूरियों से साथ
हम दोनों जी तो रहे है मगर मजबूरियों के साथ



कसूर किसी का भी हो मगर
आंसू हमेशा बेक़सूर के ही निकलते है


मोहब्बत तो सभी को आती है,
बस निभाना भूल जाते है….!


किनारा न मिले तो कोई बात नहीं, दुसरो को डुबाके मुझे तैरना नहीं है



समझा दो उन समझदारों को…कि कातिलों की गली में भी
दहशत हमारे ही नाम की ही है


बेवजह ही मुस्कुरा दिया मैंने, दर्द का दिल दुखा दिया मैंने


शीशे, यादें, सपने, रिश्ते कब कहाँ टूट जाए कुछ नहीं पता


गुजर रही है खामोशी से ये ज़िन्दगी,ना कोई खुशी है ना गम का शोर,चाहे सौ साल ही क्यों ना इंतजार करना पड़े,अब उसके सिवा इस दिल में ना आएगा कोई और।


दिल की ख्वाहिश को नाम क्या दूँ प्यार का उसे पैगाम क्या दूँ इस दिल में दर्द नहीं यादें है उसकी अब यादें ही मुझे दर्द दे तो उसे


नशा मोहब्बत का हो या शराब का होश दोनों में खो जाता है फर्क सिर्फ इतना है शराब सुला देती है और मोहबत रुला देती है


रोने की सज़ा न रुलाने की सज़ा है;
ये दर्द मोहब्बत को निभाने की सज़ा है;
हँसते हैं तो आँखों से निकल आते हैं आँसू;
ये उस शख्स से दिल लगाने की सज़ा है।


हम उम्मीदों की दुनियां बसाते रहे;
वो भी पल पल हमें आजमाते रहे;
जब मोहब्बत में मरने का वक्त आया;
हम मर गए और वो मुस्कुराते रहे।


तेरी आरज़ू मेरा ख्वाब है;
जिसका रास्ता बहुत खराब है;
मेरे ज़ख्म का अंदाज़ा न लगा;
दिल का हर पन्ना दर्द की किताब है।



जो नजर से गुजर जाया करते हैं;
वो सितारे अक्सर टूट जाया करते हैं;
कुछ लोग दर्द को बयां नहीं होने देते,
बस चुपचाप बिखर जाया करते हैं।


सोच रहा हूँ कुछ ऐसा लिखू की वो,
पढ़ के रोये भी ना और रात भर सोये भी ना


फिर किसी मोड़ पर मिल जाऊँ तो मुहँ फेर लेना तुम,
पुराना इश्क़ हूँ फिर उभरा तो कयामत होगी।


बहुत मशरूफ हो शायद, जो हम को भूल बैठे हो,
न ये पूछा कहाँ पे हो, न यह जाना कि कैसे हो।


उदास नज़रो में ख़्वाब मिलेंगे।
कभी काटे तो कभी गुलाब मिलेंगे।
मेरे दिल की किताब को मेरी नज़रो से पढ़ कर तो देखो।
कही आपकी यादे तो कही आप मिलेंगे ।


प्यार में मौत से डरता कोन है ।
प्यार हो जाता है करता कोन है।
आप जैसे यार पर हम तो क्या सारी दुनियां फिदा है।
लेकिन हमारी तरह आप पर मरता कौन है।



भीड़ में खड़े होना मेरा मक़सद नहीं है ज़नाब,
बल्कि मुझे वो बनना है जिसके लिए भीड़ खड़ी है।




हम दुश्मनों को भी बड़ी शानदार सज़ा देते हैं,
हाथ नहीं उठाते बस नज़रों से गिरा देते हैं



माचिस तो यूँ ही बदनाम है हुजुर,
हमारे तेवर तो आज भी आग लगाते है




दर्द भी उनको ही मिलता है

जो रिश्ते दिल

से निभाते है




कितने चेहरे है इस दुनिया में

मगर हम को एक चेरा ही नज़र आता है

दुनिया को हम किया देखे

उसकी यादों में सारा वक़्त ही गुज़र जाता है




मिटा दे उसकी तस्वीर मेरी आँखों से ऐ खुदा,अब तो वो मुझे ख्वाबों में भी अच्छी नही लगती
Sad shayari image
Sad shayari image


coबहुत दिनों से नजर में थी,पता नहीं किसकी नजर लगी, आज कल नजर नहीं आती I

इज़हार कर देना साहब वरना ख़ामोशी

उम्र भर का इंतज़ार बन जाती है





सोचा था तड़पायेंगे हम उन्हें,
किसी और का नाम लेके जलायेगें उन्हें,
फिर सोचा मैंने उन्हें तड़पाके दर्द मुझको ही होगा,
तो फिर भला किस तरह सताए हम उन्हें।


जब मिलो किसी से
तो जरा दूर का रिश्ता रखना,
बहुत तङपाते है
अक्सर सीने से लगाने वाले


शेरो-शायरी तो #दिल बहलाने का ज़रिया है जनाब,
लफ़्ज़ कागज पर उतारने से महबूब नहीं लौटा करते।


सोचा था तड़पायेंगे हम उन्हें, किसी और का नाम लेके जलायेगें उन्हें, फिर सोचा मैंने उन्हें तड़पाके दर्द मुझको ही होगा, तो फिर भला किस तरह सताए हम उन्हें।

दिन हुआ है, तो रात भी होगी, मत हो उदास, उससे कभी बात भी होगी। वो प्यार है ही इतना प्यारा, ज़िंदगी रही तो मुलाकात भी होगी

खत्म हो गए उन लोगों से भी रिश्ते जिन से मिल कर लगता था की ये जिन्दगी भर साथ देंगे!

डाल कर आदत बेपनाह मोहब्बत की, अब वो कहते है कि समझा करो वक्त नहीं है .....

तुम क्या जानो इस दिल मे कितना दर्द होता है ये आज भी तुम्हे याद करके अंदर ही अंदर रोता है।

जिंदगी में खुद को कभी किसी इंसान 👰 का आदि मत बनाना,🙂 क्युकी इंसान केवल अपने मतलब से ही प्यार ❤️ करता है

ना वो सपना देखो जो टूट जाये, ना वो हाथ थामो जो टुट जाये, मत आने दो किसी को करीब इतना, की उससे दूर जाने से इंसान खुद से रूठ ना जाये|
Previous Post Next Post